शाकाहारी खाद्य पदार्थ जो की नॉनवेज हैं। सावन में इनको नहीं खाना चाहिए

सावन का पवित्र महीना प्रभु श्री भोलेनाथ का महीना माना जाता हैं। इस महीने में हमेशा मासाहार का सेवन करना बहुत गलत माना जाता हैं। और हम अपनी आम ज़िन्दगी में अक्सर ऐसी चीजों का सेवन करते हैं जो की नॉनवेज से तैयार की जाती हैं। यानि हमारे खान पान की वस्तुओं में ऐसी बहुत सी चीजे होती हैं जो की नॉनवेज से बनी होती हैं।

आईये हम आपको बताते हैं उन शाकाहारी चीजों के बारे में जो की नॉनवेज से बनी होती हैं।

सूप
छोटे बच्चो से लेकर बड़ो तक हम सभी को सूप पीना पसंद होता है, क्यूंकि सभी को लगता हैं कि सूप शाकाहार व्यंजन हैं लकिन आपको जानकार हैरानी होगी की ज्यादातर रेस्टोरेंट्स में इसको बनाने के लिए जिन सॉसेज का इस्तेमाल किया जाता है उन्हें मछली से पाए जाने वाले उत्पादों से प्राप्त किया जाता है। तो अगली बार आप जब कभी रेस्टोरेंट में सूप ऑर्डर करें तो एक बार वेटर से जरूर पूछ लें।

तेल
आजकल बाजार में बहोत सारे खाने के तेल हैं लकिन काफी जगह शाकाहारी तेल में ओमेगा 3 फैटी एसिड भी होता हैं जो की आपके तेल को नॉनवेज में बदल देता हैं। इतना ही नहीं कुछ तेल जिनमें विटामिन डी के होने का दावा किया जाता है उसमें लेनोलिन पाया जाता है जो कि भेड़ से बनता है। तो अगली बार ऑयल खरीदने से पहले एक बार जरूर पढ लें।

सफ़ेद चीनी
क्या आप जानते हैं कि सफ़ेद चीनी बिलकुल भी शुद्ध शाकाहारी नहीं हैं क्यूंकि उसे साफ करने की जो प्रक्रिया अपनाई जाती है उसमें नेचुरल कार्बन का इस्तेमाल होता है। आपको जानकर हैरानी होगी कि ये नेचुरल कार्बन बोन चार होता है जो जानवरों की हड्डियों से बनाया जाता है।

बियर और वाइन
हमसे से काफी लोगो को लगता हैं की बीयर और वाइन अंगूर के रस और दूसरे फलो से बनती हैं लकिन आपको यह जानकर हैरानी होगी की शराब को साफ करने के लिए इजिनग्लास का इस्तेमाल किया जाता है जो फिश ब्लेडर से बनता है।

बच्चो का जैम
क्या आप जानते हैं की जैम भी एक नॉनवेज खाद्य पदार्थ हैं क्यूंकि अनेक जेम में जिलेटिन होता हैं जो की सिर्फ जानवरों से पाया जाने वाला प्रोडक्ट है। इसलिए अगली बार अगर आप जैम खरीदे तो यह जरूर चेक करले की इसमें जिलेटिन है या नहीं।

दही
दही भारत का सबसे आसानी से मिलने वाला खाद्य पदार्थ हैं। जो की पुरे भारत में बड़ी ही आसानी से मिल जाता हैं। लकिन आपको यह जानकर हैरानी होगी की बाजार में मिलने वाली दही में भी जिलेटिन पाया जाता हैं। तो अगर आप बाजार से दही खरीद रहे हैं तो उसके पैक पर एक बार उस पर लिखे इंग्रीडिएंट्स जरूर पढ़ लें। अगर इसमें जिलेटिन है तो आपका ये दही वेज नहीं है।

Please follow and like us:

Related posts

Leave a Comment